जिला पंचायत अध्यक्ष तुलिका कर्मा का रवैया तानाशाहपूर्ण, कर रहीं हैं, अधिकारों का अतिक्रमण :- रामू नेताम*

*जिला पंचायत अध्यक्ष तुलिका कर्मा का रवैया तानाशाहपूर्ण, कर रहीं हैं, अधिकारों का अतिक्रमण :- रामू नेताम*

दंतेवाडा । जिला पंचायत अध्यक्ष का दायित्व होता है कि वो जिला पंचायत के अंतर्गत आने वाले विषयों पर संवेदनशीलता के साथ विचार कर उसे जिला पंचायत के अंतर्गत जो स्थाई समितियां बनाई गई हैं उसके समक्ष चर्चा के लिए प्रस्तुत करना तत्पश्चात सामान्य सभा के माध्यम से प्रस्ताव करवा कर निर्णय लेना ।

परंतु सत्ता के अहंकार में चूर जिला पंचायत अध्यक्ष तुलिका कर्मा न केवल समितियों को अनदेखा कर रहीं अपितु स्वयं ही कई विभागों जैसे स्वास्थ्य और महिला बाल विकास की बैठक बुलाकर उन्हें आदेश दे रहीं हैं ।

ये कृत्य जनता द्वारा चुने उन जिला पंचायत सदस्यों को अपमानित करने वाला है जो उस विभाग की स्थाई समिति के सदस्य हैं, जिला पंचायत का आशय केवल जिला पंचायत अध्यक्ष नहीं होता है ।

जिला पंचायत अध्यक्ष का विधायक के परिवार से होने के कारण अधिकारी और कर्मचारी भी इस अधिकारों के अतिक्रमण पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देते पर लगातार जिला पंचायत अध्यक्ष के द्वारा विभिन्न विभागों की बैठक आयोजित की जा रही है और उसकी सूचना जिला पंचायत की स्थाई समिति के सदस्यों को नहीं दी जा जाती । अपने आप को जिले का सर्वेसर्वा दिखाने के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष लगातार अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर जाकर काम कर रही हैं और गांधी जी के पंचायती राज की अवधारणा को मतियामेट कर रहें हैं ।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

[poll]

Related Articles

Back to top button
Close
Close